विद्यालय छोड़ बी.आर.सी में बी.ए.सी पद पर जमे हैं 12 वर्षों से शिक्षक कौन शुध लेगा विद्यार्थियों की जिला प्रशासन आखिर मौन क्यों उठे रहे सवाल जिला प्रशासन पर शहडोल

Share this post

घनश्याम शर्मा की रिपोर्ट

*विद्यालय छोड़ बी.आर.सी में बी.ए.सी पद पर जमे हैं 12 वर्षों से शिक्षक कौन शुध लेगा विद्यार्थियों की जिला प्रशासन आखिर मौन क्यों उठे रहे सवाल जिला प्रशासन पर शहडोल*

*शहडोल जिले से बड़ी खबर है समग्र शिक्षा अंतर्गत बी.आर.सी ऑफिस में कुछ शिक्षक अंगद के पांव के तरह विगत 12 वर्षों से जमे हुए हैं इनकी धौस ऐसी है कि जिला प्रशासन में कोई भी अधिकारी बैठा हो इनकी कुर्सी कोई डगमगा नहीं सकता है बात करें नियमों की तो राज्य शिक्षा केंद्र के निर्देश है कि किसी भी कर्मचारियों अधिकतम 4 वर्ष तक प्रतिनियुक्ति में रखा जा सकता है परंतु बी.आर.सी सोहागपुर,* *गोहपारू, जयसिंहनगर,ब्यौहारी एवं बुढार में कई शिक्षक जिनका मूल कार्य बच्चों को शिक्षा देना है विगत 12 वर्षों से बी.ए.सी के पद पर आसीन हैं सूत्रों से मिली* *जानकारी के अनुसार इनमें से कुछ शिक्षक बीएसी रहते हुए बी.आर.सी का प्रभार प्राप्त कर छप्पन भोग का लुप्त बखूबी तरीके से उठाया गया है जिला प्रशासन इनकी सुध कब लेगा* *और इनको मूल कार्य विद्यालय में पढ़ाई हेतु कब मुक्त करेगा अथवा जिला प्रशासन को लगने लगा है कि इन 12 वर्षों* *जमे शिक्षकों से काबिल शिक्षक जिला -शहडोल में कोई है ही नहीं जिला शहडोल प्रशासन से अपेक्षा है कि नियमानुसार कार्यवाही की अपेक्षा*

*नामो का खुलासा शेष अगले अंक*

APR NEWS
Author: APR NEWS

Facebook
Twitter
LinkedIn

Related Posts

error: Content is protected !!