अमरकंटक एएसआई पर बदमाशो ने किया जान लेवा हमला

Share this post

अमरकंटक – श्रवण उपाध्याय

मां नर्मदा जी की उद्गम स्थली / पवित्र नगरी अमरकंटक में बिगत दिवस 13 नवंबर 2023 को सायं 8:00 बजे के करीब थाना अमरकंटक में पदस्थ ए एस आई ईश्वर यादव के साथ अमरकंटक राजेंद्रग्राम मुख्य मार्ग पर ग्राम नोनघटी के पास 8-10 बदमाशों ने मोटरसाइकिल रोक कर जानलेवा हमला कर दिया । जिससे एएसआई ईश्वर यादव को आंतरिक गंभीर चोटें आई हैं । सूचना मिलने पर थाना अमरकंटक की टीम तुरंत वहां पहुंच उन्हें तत्काल सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र राजेंद्रग्राम में भर्ती कराया गया जहां पर वह चार-पांच घंटे बेहोशी की हालत में रहे । उसके बाद देर रात उन्हें जिला अस्पताल अनूपपुर रेफर कर दिया गया। उनकी हालत में सुधार हो रहा है। ए एस आई ईश्वर यादव द्वारा थाना अमरकंटक में दर्ज कराई गई एफ आई आर रिपोर्ट में बताया गया कि 13 नवंबर 2023 को मै फ्लैग मार्च ड्यूटी में था कंट्रोल रूम अनूपपुर से फोन के माध्यम से सूचना मिलने पर कटनी से अमरकंटक के लिए पुलिस बल लेने जाना है उक्त संबंध में थाना प्रभारी अमरकंटक को सूचना से अवगत कराकर स्वयं के मोटरसाइकिल क्रमांक एमपी 52 मा 5062 से शासकीय कार्य से अमरकंटक से अनूपपुर जा रहा था तथा साथ में एक शासकीय पिस्टल जिसका बट क्रमांक 61 एवं पांच कारतूस सुरक्षा हेतु रखे थे तथा बैग में कपड़े वगैरह रखे थे । रात के करीब 8:00 बजे जैसे ही ग्राम नोनघटी पहुंचा अमरकंटक राजेंद्रग्राम मुख्य सड़क मार्ग पर करीब 8-10 लड़के आने-जाने वाले मोटरसाइकिल सवारों को परेशान कर रहे थे । उन्होंने मुझे भी रोका मैं पीछे हटकर तत्काल उप निरीक्षक बी एल गौलिया थाना अमरकंटक को सूचित कर बताया कि नोनघटी में मुख्य सड़क मार्ग पर 8-10 लड़के इकट्ठे होकर आने जाने वालों राहगीरो को परेशान कर रहे हैं तथा मुझे भी रोक लिए हैं आगे नहीं जाने दे रहे हैं , इतने में वहां पर उपस्थित लड़के मेरे पास आए तो मैंने कहा कि आने जाने वालों को आप लोग क्यों परेशान कर रहे हो मैं थाना अमरकंटक एएसआई ईश्वर यादव हूं आप लोग की हरकत से दुर्घटना हो सकती है वह सभी एक राय होकर मुझे मां बहन की गंदी-गंदी गालियां देते हुए बोले कि तुम कौन होते हो हमसे पूछने वाले । इसके बाद वह सब मिलकर मुझे मारने लगे मैं भी उनसे कुछ देर संघर्ष करता रहा लेकिन संख्या अधिक होने के कारण वह मुझे गिरा कर लात घूसो से मारे जिसके कारण मेरे सीने पेट पसली मे आंतरिक गंभीर चोटें आई हैं। तथा मेरी सर्विस रिवाल्वर भी वे साथ ले गये । मैं बेहोशी की हालत में जमीन पर पड़ा रहा । उसके बाद वहां से मुझे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र राजेंद्रग्राम में भर्ती कराया गया। जहां पर अमरकंटक फ्लैग मार्च से लौटते हुए शहडोल जोन के एडीजीपी डी सी सागर एवं पुलिस अधीक्षक अनूपपुर जे एस पवार रात 10:00 बजे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र राजेंद्र ग्राम पहुंच एएसआई ईश्वर यादव को देखने पहुंचे थे । वहां पर पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए उन्होंने कहा था कि आरोपियों को शीघ्र ही पकड़ लिया जाएगा तथा उन पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी । घटना के दूसरे दिन 14 नवंबर 2023 को सुबह होने से पहले ही अमरकंटक पुलिस द्वारा ग्राम नोनघटी में 10 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है तथा सर्विस रिवाल्वर भी आरोपियों के पास से बरामद कर लिया गया है । आरोपियों में परतम सिंह पिता सुंदर सिंह गोड़ उम्र 40 वर्ष, सुल्तान सिंह पिता अमर सिंह गोड़ उम्र 30 वर्ष, हीरा रतन सिंह पिता गनपत सिंह गोड़ उम्र 30 वर्ष, चमरू सिंह पिता शिवराज सिंह धुर्वे उम्र 29 वर्ष, बबलू उर्फ यशपाल सिंह पिता सदर सिंह मरावी उम्र 25 वर्ष, भूरा सिंह पिता दया सिंह धुर्वे उम्र 25 वर्ष, प्रताप सिंह पिता मोती सिंह मरावी उम्र 42 वर्ष, रवन सिंह टेकांम पिता लल्ला सिंह उम्र 37 वर्ष, हेमराज सिंह पिता सम्भर मरावी उम्र 32 वर्ष, आनंद सिंह धुर्वे पिता मोहन सिंह उम्र 32 वर्ष, सभी ग्राम नोनघाटी के एवं विकास कुमार ओट्टी पिता महिपाल सिंह उम्र 25 वर्ष ग्राम पिपरिया थाना गौरेला के खिलाफ अपराध क्रमांक 0023 धारा 341 342 294 506 307 353 332 333 147 149 397 आईपीसी पंजीबद्ध कर कायमी की गई है।
अमरकंटक थाना प्रभारी कलीराम परते , उपनिरीक्षक बी एल गौलिया , सहायक उपनिरीक्षक परशुराम धनंजय , भगवान सिंह पाटले , आरक्षक कमलेश बघेल , संतोष मरावी आदि टीम रही ।

aprnews
Author: aprnews

Facebook
Twitter
LinkedIn

Related Posts

error: Content is protected !!