कॉलरी की जमीन,शिक्षक उपाधि विहीन,हाई टेंशन तार के खतरे में नवज्योति विद्यालय के छात्र

Share this post

कॉलरी की जमीन,शिक्षक उपाधि विहीन,हाई टेंशन तार के खतरे में नवज्योति विद्यालय के छात्र

फर्जी मान्यता के आधार पर डोमिनिक जॉर्ज कर रहा शिक्षा का व्यापार

अनूपपुर/जिले के अंतिम छोर राजनगर कॉलरी क्षेत्र में प्राइवेट स्कूल धड़ल्ले के साथ शिक्षा का व्यापार चला रहे।वही छोटे छोटे बच्चो के प्रति विद्यालय संचालकों का लापरवाही बढ़ती जा रही यहां मौजूद नव ज्योति मिशन स्कूल जो की सीएचपी रोड में संचालित हो रही है ये स्कूल बिजली की हाई टेंशन लाइन के नीचे संचालित हो रहा है जहां पर अध्यनरत छात्र-छात्राओं को भारी खतरा का माहौल बना रहता है जिससे कभी भी कोई बड़ा हादसा घट सकती है। प्राप्त जानकारी के अनुसार विद्यालय में अध्यापन कार्य करा रहे शिक्षको के पास किसी भी प्रकार की शिक्षा संबंधी बीएड डीएड एमएड की कोई उपाधि डिग्री नहीं है। विद्यालय संचालक के द्वारा स्कूल की मान्यता भी कॉलरी की भूमि पर झूठे दतावेजो के आधार पर ली गई है इसका पट्टा इनके पास मौजूद नहीं है जब विद्यालय संचालक के पास किसी भी प्रकार का निजी भूमि निजी नाम पर नहीं है शासकीय भूमि है उस आधार पर कैसे इन्हें विद्यालय का मान्यता मिल सकता है कुल मिलाकर इनके द्वारा झोल-झाल करके यहां वहां से जुगाड़ बनाकर के फर्जी तरीके से विद्यालय संचालित किया जा रहा है जिस पर जिला प्रशासन मूक दर्शक बना हुआ है इस तरह का न जाने जिले भर में कितने उनके द्वारा एक ही विद्यालय के नाम पर कई शाखाएं खोल करके शिक्षा का गोरख धंधा किया जा रहा है।ऐसे में बच्चो का भविष्य अंधकारमय है और स्कूल मालिको का भविष्य उज्ज्वल स्कूल की फीस एक बड़े संस्थान के जैसे ली जा रही और व्यस्वस्था के नाम कुछ भी नही शिक्षा विभाग के जिले के अधिकारियों से बात करने पर जल्द ही कार्यवाही करने की उम्मीद जताई गई है। ज्ञात होकी विद्यालय का संचालक डॉमिनिक जॉर्ज नाम का कोई क्रिश्चियन है जो केरल क्षेत्र का रहने वाला बताया जा रहा है शिक्षा के व्यापार का खेल इसके द्वारा लगभग दो दशकों से कोलफील्ड क्षेत्र में फैलाकर लूटा जा रहा है साथ ही इनके ऊपर हिंदू छात्र-छात्राओं को धर्म विरोधी ज्ञान भी देने का आरोप लग रहा है।संचालक से इस संबंध में जानकारी लेना चाहा गया तो उनके द्वारा कई बार कॉल करने पर रिसीव नहीं किया गया इसके संबंध में क्षेत्र वासियों ने जानकारी दी है।

इनका कहना है:-

उपाधि के संबंध में हमने बीईओ को निर्देशित किया जा चुका है मान्यता के संबंध में डीसीसी से एवं स्थल निरीक्षण करके सभी विषय का जांच व कार्यवाही की जाएगी।

आर एस धुर्वे जिला शिक्षा अधिकारी अनूपपुर

Bhupendra Patel
Author: Bhupendra Patel

Facebook
Twitter
LinkedIn

Related Posts

error: Content is protected !!