वन्य प्राणियों से क्षति का उचित मुआवजा व अनुकंपा नियुक्ति मिलना जनहित:-जितेंद्र सिंह

Share this post

वन्य प्राणियों से क्षति का उचित मुआवजा व अनुकंपा नियुक्ति मिलना जनहित:-जितेंद्र सिंह

ग्रामीणों व किसानों को मृत व अन्य क्षतिपूर्ति दिए जाने मुख्यमंत्री एवं वन संरक्षक को समाजसेवी ने सौंपा प्रार्थना पत्र

अनूपपुर/जिले के उत्कृष्ट समाजसेवी एवं पूर्व प्रशासनिक अधिकारी श्री जितेंद्र सिंह निवासी जैतहरी जिला अनूपपुर के द्वारा दिनांक 9 फरवरी 2024 को मध्य प्रदेश शासन के मुख्यमंत्री श्री मोहन यादव जी एवं प्रधान मुख्य वन संरक्षक मध्य प्रदेश शासन भोपाल को प्रार्थना पत्र लेकर बताया है कि वर्तमान समय में वन्य प्राणी ग्रामीण अंचलों में प्रवेश कर रहे हैं तथा हिंसक हो रहे हैं वन्य प्राणी मानव जीवन को खतरा पैदा कर रहे हैं परिणाम स्वरुप कई ग्रामीणों को हिंसक जानवर हमला करके मौत के घाट उतार देते हैं एवं ऐसे कई ग्राम जो वनांचलों से समीप बसे हुए हैं एवं कई ऐसे ग्राम जो वनांचल से कोसों दूर स्थित है उन ग्रामों में भी वन्य प्राणी पहुंच जाते हैं और कई ग्रामीणों पर हमला करते हैं या की ग्रामीणों के पालतू जानवरों को मार डालते हैं तथा वन विभाग द्वारा औपचारिकताओं की खानापूर्ति कर पीड़ित ग्रामीण कृषकों को उचित मुआवजा नहीं दिया जा रहा है वर्तमान समय में शहडोल संभाग के अनूपपुर शहडोल उमरिया के सुदूर ग्रामीण अंचलों में यहां तक की शहरों से समीप बसे हुए गांव के कृषक खेती करते हैं किंतु वन्य प्राणियों द्वारा फसलों को भी भारी क्षति पहुंचाया जाता है जिसमें वन सूअर फसलों को ज्यादा नुकसान करते हैं किसानों की सुनने वाला कोई नहीं है जिससे किसान दुखी है तथा खेती करना बंद कर रहे हैं अभी शहडोल उमरिया तथा अनूपपुर में वन हाथियों द्वारा ग्रामों में शहरों में प्रवेश कर भारी नुकसान किया जा रहा है कई आदिवासियों एवं ग्रामीणों के घरों को तोड़े जा रहे हैं यहां तक की कई ग्रामीणों की मौत भी हाथियों के हमले से हो गई है वन विभाग उदासीन है या की वन विभाग के पास इन हिंसक वन्य प्राणियों से मानव की सुरक्षा के लिए कोई ठोस उपाय नहीं है समाजसेवी जितेंद्र सिंह के द्वारा माननीय मुख्यमंत्री जी से पत्र लेख कर निवेदन किया है कि हिंसक वन्य प्राणियों द्वारा ग्रामीण अंचलों में प्रवेश कर मानव जीवन को खतरा पहुंचाने घरों एवं फसलों को नुकसान पहुंचाए जाने जैसे गंभीर मुद्दों पर गंभीरता से विचार करने की कृपा की है साथ ही प्रार्थना किया है कि वन्य प्राणियों द्वारा किसी भी व्यक्ति की मौत पर एक करोड रुपए मुआवजा प्रदान करने के साथ ही मृतक परिवार के आश्रित को अनुकंपा नियुक्ति वन विभाग में प्रदान करने की कृपा की है साथ ही वन्य प्राणियों से उत्पन्न मानव जीवन को खतरा से बचने के लिए वन विभाग को कोई ठोस कदम उठाने हेतु निर्देशित करने का एवं कृषकों के फसलों को वन प्राणियों द्वारा पहुंचाए जाने वाले हानि का उचित मुआवजा दिलाने का भी सादर निवेदन प्रस्तुत किया है।

Bhupendra Patel
Author: Bhupendra Patel

Facebook
Twitter
LinkedIn

Related Posts

error: Content is protected !!